क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम - द अल्टीमेट गाइड

Posted by  Fintra Editor , October 15, 2020

क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम - द अल्टीमेट गाइड

चिंतित हैं कि जब पूरी अर्थव्यवस्था में उथल-पुथल हो तो आप क्रेडिट कार्ड की देय राशि का भुगतान कैसे करेंगे ? घबराओ मत, एक समाधान है! भारतीय रिज़र्वबैंक ने व्यापक रूप से वित्तीय संकट की स्थिति में नागरिकों की चिंताओं को कम करने के लिए कुछ एहतियाती उपाय किए हैं। संक्षेप में भारतीय रिज़र्व बैंक काउद्देश्य बैंक नोटों को जारी करने की निगरानी करना तथा भारत में मौद्रिक स्तिरथा को बनाए रखना है। यह क्रेडिट और मुद्रा सिस्टम को इसके लाभ में लागू करताहै और एक तेजी से बढ़ती हुई जटिल अर्थव्यवस्था की चुनौतियों का सामना करने के लिए एक मौद्रिक पॉलिसी का ढांचा तैयार करता है। भारतीय रिज़र्व बैंकविकास के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए मूल्य स्तिरथा को बनाए रखने का भी दायित्व संभालता है।

सोच रहे हैं कि क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम क्या है और यह आपको कैसे लाभ पहुंचा सकता है? क्या इसे चुनना एक बुद्धिमानी की बात है ? फिंतरा यहां परनिम्नलिखित विषयों पर चर्चा करके आपके सभी प्रश्नों और संदेहों को खत्म करेगा :

  1. क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम क्या है?
  2. क्या आपको क्रेडिट कार्ड की देय राशि पर मौरेटोरियम का विकल्प चुनना चाहिए?
  3. मौरेटोरियम पर फिंतरा के विचार

                     क्रेडिट-कार्ड-मौरेटोरियम 

क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम क्या है ?

यह एक प्राकृतिक प्रोसेस है जहां एक देश की अर्थव्यवस्था विभिन्न कारकों के कारण बढ़ती या घटती है। घटाव के बारे में बात करें तो हर किसी को वित्तीयसम्बन्धित महत्वपूर्ण बिंदु का अनुभव होता है, उदाहरण के लिए, हाल ही में हमने इस का सामना कोविड-19 महामारी के कारण किया था। ऐसे निर्णायक समयमें, वेतन लगभग 50% कम किया गया, कई लोगों ने नौकरियां गवा दीं और व्यवसायों को भी नुकसान हुआ। इन समय में कोई अपने बिलों या क्रेडिट कार्ड कीदेय राशि का कैसे भुगतान कर सकता है ? सरकार का कदम उठाना मरहम लगाने के रूप में काम करता है I जब ऐसे परिदृश्य सामने आते हैं तो भारतीय रिज़र्वबैंक (आरबीआई) नागरिकों की लोन्स/ईएमआईज़ और क्रेडिट कार्ड पर देय राशि के भुगतान की चिंताओं को कम करने के लिए कुछ कदम उठाती है। मौरेटोरियमसुविधाएंका प्रस्ताव करने और ड्राफ्ट करने के लिए वे नियम को पास करती है और अन्य वित्तीय संस्थान और बैंकों को निर्देश देती है I मौरेटोरियम कार्डधारक केलिए बचाव के रूप में कार्य करता है, यह कैश प्रवाह तथा आय में  रुकावट के कारण भुगतान की सेवा में कठिनाइयों को दूर करके राहत प्रदान करता है। जबमौरेटोरियम का प्रस्ताव किया जाता है तो वित्तीय संस्थान द्वारा बताए गए अनुसार क्रेडिट कार्ड भुगतान एक निश्चित संख्या के महीनों के लिए स्थगित किए जाते हैं।

                       लोन-मौरेटोरियम 

क्या आपको क्रेडिट कार्ड की देय राशि पर मौरेटोरियम का विकल्प चुनना चाहिए ? 

क्रेडिट कार्ड वास्तव में एक जटिल भुगतान साधन है और इनका जिम्मेदारी के साथ इस्तेमाल करने पर आपको इनाम दिया जा सकता है। हालांकि, इसकालापरवाही से इस्तेमाल करना निश्चित रूप से आपके वित्तीय को परेशान कर देगा। क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम के लिए चुनना केवल आपको अस्थायी राहत ही प्रदानकरेगा, यह स्थायी समाधान नहीं होगा I मौरेटोरियम अवधि समाप्त होने पर आप सारे बिल अदा नहीं करते हैं, तो आप कर्ज जाल में फंस सकते हैं। मौरेटोरियमआपके क्रेडिट कार्ड की देय राशि को स्थगित करता है, यह आपके रीभुगतान दायित्व के लिए अवरोध नही है I मौरेटोरियम अवधि के पूरा होने के तुरंत बाद देय दिनांक पर बकाया राशि (ब्याज शुल्क के सहित) का भुगतान करना होगा। 

यह बैंक की क्रेडिट नीतियों और संकट अनुभव पर निर्भर करता है कि वे मौरेटोरियम कैसे प्रदान करते हैं और यह एक बैंक से दूसरे बैंक में और एक क्रेडिटकार्डधारक से दूसरे से   अलग होगा। इसलिए, पूरी स्पष्टता पाने के लिए इस बारे में चर्चा करते समय आप उनसे अच्छे से इस बारे में बात करना सही होगा I 

अपने मुख्य प्रश्न पर आते हैं कि क्या आपको क्रेडिट कार्ड की देय राशि पर मौरेटोरियम का विकल्प चुनना चाहिए, फिंतरा आपसे आग्रह करती है कि आप इसकेलिए आवेदन करने से पहले दो बार विचार करें। मौरेटोरियम सहायता प्राप्त करने पर देय राशि पर प्रति माह 3-4% ब्याज शुल्क ही लिए जाएंगे I इसके अलावा, अगर मामला बहुत गंभीर न हो तो दुबारा भुगतान स्थगित करने से पहले अन्य विकल्पों को आज़माएँ । अपने आपातकाल पूंजी का इस्तेमाल करें, ईपीएफअकाउंट से पैसे निकालें, कुछ अनावश्यक निवेशों को बंद करें या विराम दें ताकि कार्ड देय राशि के भुगतान के लिए जरूरी धनराशि जुटाई जा सके। यदि आपकेपरिवार और दोस्तों से कुछ पैसे उधार लेने का विकल्प उपलब्ध है, तो मौरेटोरियम को  चुनने से पहले उसका इस्तेमाल करें। मौरेटोरियम अवधि समाप्त होते हीदेय राशि को चुकाने के लिए पूरी तरह से तैयार पुर्तिकर योजना बनाकर रखें। यदि और ज्यादा देरी है, तो इससे अतिरिक्त ब्याज शुल्क और लेट भुगतान फीसलगेगी। यह अंततः आपके क्रेडिट प्रोफाइल को खराब कर देगा और आपको गंभीर कर्ज की स्थिति में डाल देगा।

                          डेब्ट-मौरेटोरियम 

मौरेटोरियम पर फिंतरा के विचार 

भारतीय रिज़र्व बैंक हस्तक्षेप करता है और कुछ समय के लिए वित्तीय संस्थान को मौरेटोरियम के लिए अपने नियमों को पालन करने के आदेश देती है, बाद में यहअपने कदम पीछे हटा लेता है और इन संस्थान पर निर्णय छोड़ देता है कि वे अपने ग्राहकों को मौरेटोरियम प्रदान करने की इच्छा कैसे रखते हैं।

बैंकों और कार्ड जारीकर्ता को उन विभिन्न तरीकों को अपनाने के लिए स्वतंत्र छोड़ दिया जाता हैं, जो उन्हें ज्यादा सही लगते हैं। कुछ लोग अपने ग्राहकों सेमौरेटोरियम की इच्छा रखने पर उनसे बात करने को कह सकते हैं - इस तरीके को ऑप्ट-इन तरीके कहते हैं। इसके अलावा, कुछ अन्य वित्तीय संस्थान अभाव रूपसे मौरेटोरियम का प्रस्ताव कर  सकते हैं, और यदि ग्राहक इसे नही चुनना चाहते हैं तो फिर ग्राहकों को इसे न चुनने का विकल्प दिया जाता है I

याद रखने लायक एक महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि मौरेटोरियम्स के कुछ खास नकारात्मक प्रभाव भी होते हैं। मौरेटोरियम अवधि के दौरान व्यक्ति के बकाया क्रेडिटकार्ड भुगतानों पर ब्याज चलता रहता है। मौरेटोरियम में केवल "ग्रेस पीरियड" दिया जाता है, इसे क्रेडिट कार्ड भुगतानों का अवरोध नहीं माना जाना चाहिए।

फिंतरा आपको चेतावनी देती है कि क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम को चुनना व्यक्ति को कर्ज के  जाल की ओर ले जाएगा, इसलिए हम जल्द जल्द देय राशि कोचुकाने की सलाह देते हैं I अगर आपके पास पर्याप्त  कैश प्रवाह और नकदी है तो कर्ज भार को कम करें। बोझ को कम करने का एक दूसरा उपाय है कि बकायाक्रेडिट कार्ड के बिलों को ईएमआईज़ में परिवर्तित करें। हालांकि, ईएमआईज़ की  ब्याज दर कार्डधारक के क्रेडिट प्रोफाइल पर निर्भर करती है, फिर भी यह क्रेडिटकार्ड के वित्तीय शुल्क से कुछ कम होगी। ईएमआई अवधि छह माह से लेकर पांच वर्ष के बीच हो सकती है, ताकि कार्डधारक अपनी अपेक्षित नकदी और कैशप्रवाह के अनुसार अपने इच्छा अवधि का चयन कर सकें। फिंतरा आपको सुझाव देती है कि क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम के लिए आवेदन करते समय सावधानी बरतेंऔर यह भी सुझाव देती है कि भविष्य के परिणामों से बचने के लिए क्रेडिट कार्ड मौरेटोरियम से बचें।

                        कार्ड-मौरेटोरियम 

निष्कर्ष

अंत में, हम आपको यह सलाह देते हैं कि बिना मौरेटोरियम विकल्प पर निर्भर हुए, समय पर पूरे क्रेडिट कार्ड की देय राशि को समाप्त करेंI अनिश्चित समय केदौरान अपनी पूरी क्रेडिट सीमा तक बिना बाधा के एक सम्पूर्ण कार्यात्मक  क्रेडिट कार्ड रखना बहुत उपयोगी होगा। कठिन समय में, एक सम्पूर्ण कार्यात्मक क्रेडिटकार्ड एक  सुविधाजनक भुगतान साधन की तरह काम करता है I अच्छे भुगतान रिकॉर्ड वाले क्रेडिट कार्ड धारकों को क्रेडिट कार्ड से जुड़े पूर्व अनुमोदित लोन्स प्राप्तहो सकते हैं, जो एक अतिरिक्त और तात्कालिक क्रेडिट व्यवस्था प्रदान करेगा, जिसमें कोई कागजी कार्रवाई नहीं होगी। यह सुविधा किसी भी वित्तीय कठिनाईयोंमें उछाल के रूप में कार्य कर सकती है।

Recommended

Downloads