द अल्टीमेट क्रेडिट कार्ड गाइड

Posted by  Fintra , updated 2020-12-31

द अल्टीमेट क्रेडिट कार्ड गाइड

फिंतरा उन लोगों के लिए क्रेडिट कार्ड की अल्टीमेट गाइड प्रस्तुत करता है जो क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने के बारे में सोच रहे हैं या अभी क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं I इससे आप क्रेडिट कार्ड्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे और उन्हें संभालने के लिए कई टिप्स और तकनीकों का पता लगा सकेंगे ।

इस पोस्ट में, हम बात करेंगे कि : 

  1. क्रेडिट कार्ड क्या है ?
  2. क्रेडिट कार्ड किन लोगों को दिया जाता है ?
  3. क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कैसे करें ?
  4. क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैसे किया जाता है ?
  5. क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान
  6. क्रेडिट कार्ड का बिल कैसे आता है और इसका भुगतान कैसे करते हैं ?
  7. क्रेडिट कार्ड किस-किस प्रकार के होते हैं ?
  8. क्रेडिट कार्ड के नियम और शर्तें 
  9. क्रेडिट कार्ड स्कोर क्या है ?
  10. बिगिनर्स के लिए सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड

                         बेस्ट-क्रेडिट-कार्ड

क्रेडिट कार्ड क्या है ?

क्रेडिट कार्ड एक पेमेंट कार्ड है जिसके साथ यूज़र सामान और सेवाओं के लिए व्यापारी को भुगतान करने के लिए उपयोग कर सकता है। क्रेडिट कार्ड यूज़र को बिना कैश के सामान खरीदने की अनुमति देता है और उन्हें ऐसी स्थिति में उपयोग करने की अनुमति देता है जहां उन्हें भुगतान करने के लिए सुरक्षित और उपयोगी दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है।आपके सीबिल रेटिंग को जोड़ने के लिए यह एक बहुत ही इनक्रेडिबल साधन है-एक तीन अंकों वाला नंबर जो इस बात को बताता है कि आप अपनी जिम्मेदारी किस प्रकार निभा रहें हैं। जैसे डेबिट कार्ड होता है वैसे ही क्रेडिट कार्ड भी एक कार्ड होता है लेकिन इनमें यह फर्क होता है कि डेबिट कार्ड जो होता है वह बैंक अकाउंट से लिंक होता है जबकि क्रेडिट कार्ड किसी बैंक अकाउंट से लिंक नहीं होता है इसलिए डेबिट कार्ड से हम सिर्फ उतने ही पैसे खर्च कर सकते हैं जितने अकाउंट में होते हैं क्योंकि यह अकाउंट से लिंक होता है जबकि क्रेडिट कार्ड बैंक जारी करता है तो इसमें एक लिमिट हमें देता है जो कि ₹ 25,000 से लेकर ₹ 3,00,000 तक कुछ भी हो सकती है और वो लिमिट हम एक महीने में खर्च कर सकते हैं, उदाहरण के लिए हम मानते हैं कि किसी व्यक्ति के पास एचडीएफसी का क्रेडिट कार्ड है तथा उसकी लिमिट ₹ 70,000 है तो वह एक महीने में ₹70,000 तक ही अपने क्रेडिट कार्ड से खर्च कर सकता है I इससे यह बिल्कुल न समझें कि क्रेडिट कार्ड एक फ्री कार्ड है क्योंकि  जो पैसे हम क्रेडिट कार्ड की मदद से खर्च करते हैं, उन पैसों का भुगतान हमें बाद में करना पड़ता है I

                        क्रेडिट-कार्ड

क्रेडिट कार्ड किन लोगों को दिया जाता है ?

अगर आपके पास एक अच्छी इनकम सोर्स है मतलब अगर आपके पास एक अच्छी सैलरी वाली कोई जॉब है या फिर आपका कोई अच्छा बिजनेस चल रहा है और साथ ही आपका सिबिल स्कोर भी अच्छा है तो आपको आसानी से क्रेडिट कार्ड मिल जाता है I 

क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कैसे करें ?

क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने के लिए 2 तरीके होते हैं : आप ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते है और आप ऑफलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं I जिस बैंक का आप क्रेडिट कार्ड लेना चाहते हैं, उस बैंक की वेबसाइट पर जाकर आप डायरेक्ट क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं I अगर आप चाहें तो आप सीधे बैंक में जाकर भी ऑफलाइन फॉर्म भर सकते हैं I तो इन दो तरीकों में से आप किसी भी तरीके से क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं I जैसे ही आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करते हैं वैसे ही एक महीने में क्रेडिट कार्ड आपके परमानेंट पते पर भेज दिया जाता है और इसके बाद आप उस क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं I

          क्रेडिट-कार्ड-अप्लाई-तरीके

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैसे किया जाता है ? 

जब बैंक आपको क्रेडिट कार्ड जारी करता है तो बैंक इसकी एक लिमिट पहले से ही फिक्स करके देता है जो कि ₹ 25,000 से लेकर ₹ 3,00,000 तक कुछ भी हो सकती है और समय के साथ-साथ यह बढ़ती रहती हैं I जितनी लिमिट बैंक फिक्स कर देता है उतना ही आप इसको ऑनलाइन शॉपिंग में, किसी को पेमेंट करने में या एटीएम मशीन से पैसे निकालने में इस्तेमाल कर सकते हैं I आप अगर चाहें तो क्रेडिट कार्ड से कैश भी निकाल सकते हैं लेकिन उसपे जो पेनल्टी है, वो कैश निकालने के साथ ही लगना शुरु हो जाती है इसलिए क्रेडिट कार्ड से कभी कैश नहीं निकालना चाहिए I इससे हमेशा ऑनलाइन पेमेंट या शॉपिंग ही करनी चाहिए I जैसे आप अपने डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं वैसे ही हर जगह पर आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं I

          क्रेडिट-कार्ड-इस्तेमाल

क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान

क्रेडिट कार्ड के बहुत सारे फायदे होते हैं, उनमें से कुछ फायदे नीचे दिए गये हैं :

  1. जब आप क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं या पेमेंट वगैरह करते हैं तो इसमें आपको कुछ रिवॉर्ड पॉइंट्स मिलते हैं, जिन्हें आप रिडीम कर सकते हैं I 
  1. इस कार्ड का सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर आपको इमरजेंसी में पैसों की जरुरत पड़ जाए और कहीं से अगर व्यवस्था नही हो पा रही है तो आप इस स्थिति में अपने क्रेडिट कार्ड से पैसे निकालकर, उन्हें इस्तेमाल कर सकते हैं और फिर आप एक महीने के बाद उसका बिल पे कर सकते हैं I
  2.  क्रेडिट कार्ड से जब आप पेमेंट करते हैं तो आपको काफी छूट भी मिलती है, तो अगर आप इसकी मदद से कहीं भी ऑनलाइन पेमेंट करते हैं या शॉपिंग करते हैं तो आपको अच्छी-खासी छूट भी मिल जाती है I

 

जिस तरह से क्रेडिट कार्ड के बहुत सारे फायदे हैं वैसे ही क्रेडिट कार्ड के बहुत सारे नुकसान भी हैं :

  1. दूसरा बड़ा नुकसान यह है कि अगर आप क्रेडिट कार्ड की मदद से एटीएम मशीन से कैश निकालते हैं तो कैश निकालने के दिन से ही आपके ऊपर पेनल्टी लगना शुरु हो जाती है जब तक कि निकाले हुए कैश को पे नही कर देते हैं I
  2. सबसे बड़ा नुकसान तो यह है कि अगर आप इसका बिल पे करने में चूक जाते हैं, चलिए मान लेते हैं कि आपकी ड्यू डेट 10 तारीख है और आप 10 तारीख को बिल पे नहीं करते हैं तो आपके ऊपर अच्छी खासी पेनल्टी लग जाती है I
  3. अगर आपका क्रेडिट कार्ड खो जाता है और कोई पर्सनली इंटरनेशनल ट्रांसेक्शन कर लेता है तो इसमें आपको ओटीपी भी नहीं मिलता है I ओटीपी केवल आपके पास नेशनल ट्रांसेक्शन में आता है, जो इंटरनेशनल ट्रांसेक्शन होते हैं उनमें ओटीपी भी नहीं आता है तो इसलिए अगर यह कार्ड खो जाता है तो कोई भी आपके क्रेडिट कार्ड का दुरूपयोग कर सकता है इसलिए क्रेडिट कार्ड के खोने के तुरंत बाद ही आपको इसको इसको बंद करा देना चाहिए I 
  1. एक बड़ा नुकसान क्रेडिट कार्ड का यह भी है कि फिज़ूल खर्ची काफी होती है मतलब कि अगर आप किसी भी चीज को नहीं खरीदना चाहते हैं और आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो आपके मन में आएगा कि इस चीज को खरीद लेते हैं क्योंकि बिल की तो कोई टेंशन लेता ही नहीं है सोच लेते हैं कि अभी तो 1 महीने के बाद ही बिल पे करना है इसलिए कोई टेंशन नहीं होती तो इससे इसलिए काफी फिज़ूल खर्ची भी होती है I जो चीज हमें नहीं भी खरीदनी होती, वह भी हम क्रेडिट कार्ड होने की वजह से खरीद लेते हैं I

          क्रेडिट-कार्ड-फायदे-नुकसान

क्रेडिट कार्ड का बिल कैसे आता है और इसका भुगतान कैसे करते हैं ?

जब हम क्रेडिट कार्ड से कहीं पर शॉपिंग करते हैं या पेमेंट करते हैं तो इसके कुछ दिन के बाद बिल जैनरेट होता है और बिल जैनरेट होने के बाद भी हमें 15 - 20 दिनों का समय मिलता है, उस बिल को पे करने के लिए जो कि कभी-कभी एक महीने का भी होता है मतलब कि जब हम अपने क्रेडिट कार्ड से कोई पैसा खर्च करते हैं तो उसके बाद लगभग 50 दिन के बाद हमें उसका पेमेंट करना होता है I जब हम खर्च करते हैं तो उसके कुछ दिन के बाद बिल जैनरेट हैं और बिल जैनरेट होने के कुछ दिन के बाद हमें उसे पेट करना होता है I बिल हमारी नेट बेंकिंग में भी शो होता है और फिजिकली भी बैंक में हमारा जो परमानेंट पता होता है उस पते पर बिल को भेज दिया जाता है I उसमें सारी जानकारियाँ होती हैं कि आपने कितना पैसा खर्च किया है, कहां-कहां पर खर्च किया है,  साथ ही आप के ऊपर अगर कोई पेनल्टी लगी हुई होती है तो वह पेनल्टी की जानकारी भी उस बिल में होती हैं और उसमें एक ड्यू डेट भी दे रखी होती हैं, जिस डेट तक आपको बिल का पेमेंट करना होता है I पेमेंट करने में आपको दो ऑप्शन दिए जाते हैं या तो आप जो मिनिमम अमाउंट जो होता है वह पे कर सकते हैं या फिर आप पूरा अमाउंट भी पे कर सकते हैं I फिंतरा आपको यह सलाह देती है कि आपको पूरा पेमेंट करना चाहिए क्योकि जो अमाउंट रह जाता है, उस पर अच्छी खासी पेनल्टी लगती है तो जब भी आप बिल का भुगतान करें तो आपको पूरे बिल का भुगतान करना चाहिए I अब बात आती है कि बिल का भुगतान कैसे करना चाहिए ? आप सीधे जाकर के इंटरनेट बैंकिंग से बिल का भुगतान कर सकते हैं या अगर आप चाहें तो सीधे बैंक में जाकर भी ऑफलाइन अपने क्रेडिट कार्ड का बिल पे कर सकते हैं I

                      क्रेडिट-कार्ड-बिल-भुगतान

क्रेडिट कार्ड किस-किस प्रकार के होते हैं ? 

रिवॉर्ड कार्ड

यह कार्ड प्राप्त करने के लिए अच्छा क्रेडिट स्कोर होना आवश्यक है तथा यह कार्ड एन्नुअल फीस और हाय ब्याज दर के साथ आता है I इन कार्डों को बढ़िया क्रेडिट की आवश्यकता होती है और वे विभिन्न प्रकार से आते हैं:

कैशबैक :

कैशबैक कार्ड आपको आपके द्वारा कार्ड पर खर्च किये जाने वाले रुपये का कुछ प्रतिशत कैश आपको वापस देता है I कुछ कार्ड आपके कैशबैक का भुगतान मंथली करते हैं और कुछ सालाना भुगतान करते हैं। कुछ कार्डों की प्रारंभिक दरें 5% तक कैशबैक देती हैं, जो एक निश्चित अवधि के बाद आमतौर पर 1% हो जाती है, जबकि अन्य कार्ड 1% - 2% तक कैशबैक देते हैं।

ट्रैवल :

जब भी आप अपने कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो यह कार्ड आपको पॉइंट देकर रिवॉर्ड करता है, जिसे आप फ्लाइट्स पर छूट प्राप्त करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

बैलेंस ट्रांसफर कार्ड

आमतौर पर एक छोटी फीस के लिए - आप अपने मौजूदा कार्ड डेब्ट को बैलेंस ट्रांसफर कार्ड पर ले जाकर , ब्याज की राशि को कम कर सकते हैं। यह कार्ड आमतौर पर एक निर्धारित अवधि के लिए 0% या कम ब्याज दर प्रदान करता है। इस कार्ड को प्राप्त करने के लिए हाय क्रेडिट स्कोर होना आवश्यक है I

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड कॉलेज के छात्रों के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया है I पहली बार क्रेडिट कार्ड आवेदक को किसी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के लिए अन्य प्रकार के क्रेडिट कार्ड के मुकाबले आसानी से एप्रूवल मिल जाता है। यह बात को ध्यान में रखकर इस कार्ड को बनाया गया है कि इन युवाओं के पास अक्सर कम या कोई क्रेडिट हिस्ट्री नहीं होती है I

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड

इन कार्डों को एक अपफ्रंट सिक्योरिटी डिपॉज़िट्स की आवश्यकता होती है। यह डिपॉज़िट आरंभिक क्रेडिट लिमिट के बराबर होगी। उदाहरण के लिए, एक 500 रुपये की सिक्योरिटी डिपॉज़िट के साथ, आपको एक 500 रुपये की क्रेडिट लिमिट मिलेगी I यह उनके लिए क्वालिफाइ करना आसान है, उनका उपयोग ट्रेडिशनल क्रेडिट कार्ड जैसी खरीदारी करने के लिए किया जा सकता है, और यह कुछ क्रेडिट हिस्ट्री भी स्थापित करेगा।

अनसिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड

अगर आप सिक्योरिटी डिपॉज़िट नहीं कर सकते तो इन कार्डों को पाने के बारे में सोचें।ऐसे क्रेडिट कार्ड एक ऐसी प्रक्रिया प्रदान करते हैं जिसमें आपको अपनी विश्वसनीयता के आधार पर एक क्रेडिट लाइन प्रदान की जाती है। हालांकि, इनमें से कुछ कार्डों के लिए एप्रूव  होने के लिए, कभी-कभी आपको कम से कम कुछ फेयर क्रेडिट हिस्ट्री की आवश्यकता हो सकती है।

क्रेडिट कार्ड के नियम और शर्तें 

एन्नुअल परसेंटेज रेट (एपीआर) :

क्रेडिट कार्ड पर ब्याज को आमतौर से सालाना दर के लिए एपीआर के रुप में कम्यूनिकेट किया जाता है। इससे कार्डों के बीच फाइनेंसिंग कॉस्ट्स के बारे में सोचना सरल हो जाता है I  कुछ कार्ड आपको एक इनिशियल एपीआर ऑफर करते हैं I एक इंट्रोडक्शन एपीआर इम्पलाई करता है कि आपको एक प्रीडेटरमाइंड टाइम फ्रेम के लिए एक अनकॉमन एपीआर दिया जाएगा, जिसके बाद आपका एपीआर बढ़ जाएगा। उदाहरण के लिए, आपको एक वर्ष के लिए एपीआर खरीदने के लिए 0% इंट्रोडक्शन मिल सकता है, जिसके बाद आपका एपीआर 20% हो जाएगा। ब्याज जमा करने से दूर रहने के लिए, साल खत्म होने से पहले अपनी पार्टियों का ख्याल रखना।

                            एपीआर

फिक्स्ड V/S वेरिएबल इंट्रेस्ट कॉस्ट्स :

अगर आपके पास आपका क्रेडिट कार्ड है तो यह जान लें कि एक फिक्स्ड इंट्रेस्ट कॉस्ट पूरे समय के लिए बराबर होती है। आपको कई फिक्स्ड-रेट के कार्ड नहीं मिलेंगे, क्योंकि क्रेडिट कार्ड एक्ट 2009 ने कार्ड सप्लायर्स के लिए स्वैच्छिक रूप से फाइनेंसिंग कॉस्ट में परिवर्तन करना कठिन बना दिया है। सप्लायर्स के लिए फिक्स्ड-रेट्स का पब्लिसाइज़ करना कठिन हो गया। आप अलग-अलग फाइनेंसिंग कॉस्ट्स वाले कार्ड की खोज करने के लिए ज्यादा लिएबल हैं। इसका मतलब यह है कि आपका प्राइम रेट नियमित रूप से एपीआर पर लगाया जाता है-लोन फीस बैंक उन लोगों को प्रदान करते हैं जिन्हें वे आमतौर पर फाइनेंशियली मजबूत समझते हैं। आपका सप्लायर स्पेसिफिक रेट के अलावा एपीआर तय करने के लिए प्राइम रेट का उपयोग भी करता है।

                          फिक्स्ड-वेरिएबल-रेट

क्रेडिट कार्ड स्कोर क्या है ?

जब आप मनीलेंडर से क्रेडिट लेने के लिए आवेदन करते हैं-होम लोन, व्हीकल एडवांस या क्रेडिट कार्ड के लिए, तो आपका सीबिल एसेसमेंट मैटर करता है। आपका फाइनेंशियल एसेसमेंट एक मैथेमेटिकल एस्टीमेशन है कि आप एक उधारकर्ता के रूप में कितने भरोसेमंद हैं I यहां क्लिक करके क्रेडिट कार्ड स्कोर पर हमारी पूरी गाइड देखें। 

बिगिनर्स के लिए सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड 

नॉन-एन्नुअल फीस कार्ड

जब आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना सीख रहे हैं, यह उपयोगी नहीं है कि आप वार्षिक खर्च न करें। आप अपने कार्ड को जरूरत के हिसाब से, बहुत ज्यादा या बहुत कम इस्तेमाल कर सकते हैं। 

सिक्योर्ड कार्ड

यह बंद मौके पर एक ठोस विकल्प है कि आपके पास अभी तक कोई सीबिल रेटिंग नहीं है I चूँकि आपको एक सिक्युरिटी स्टोर रखना है इसलिए ज्यादा लोन स्पेशलिस्ट क्लाइंट की तरह आपको स्वीकार करेंगे। धीरे-धीरे अपने सीबिल एसेसमेंट का निर्माण करते जाएँ फिर इसके बाद बेहतर कार्ड्स के लिए आवेदन करें।

स्टूडेंट कार्ड

एक शानदार निर्णय है अगर आप वर्तमान में स्कूल में हैं और क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं I सप्लायर नियमित रूप से आप की पुष्टि करने के लिए तैयार हैं चाहे आप क्रेडिट के लिए नये ही क्यों न हों।

निष्कर्ष

अगर क्रेडिट बहुत सारे नुकसान हैं तो इसके बहुत सारे फायदे भी हैं, बस आपको इसे स्मार्टली यूज़ करना आना चाहिए I आप टाइम पर इसका बिल पे करते हैं तो इसके बहुत सारे फायदे भी हैं जैसे कि आपको रिडीम पॉइंट्स भी मिलते हैं ताकि आप जो ऑनलाइन शॉपिंग वगैरह करते हैं, वहां पर आपको काफी छूट मिल सके है I इमर्जेंसी में अगर आपको पैसों की ज़रुरत पड़ती है तो आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं, तो इसलिए अगर आपकी एक अच्छी जॉब है या आपका अच्छा बिजनेस चल रहा है तो आपको क्रेडिट कार्ड ले लेना चाहिए I

                             क्रेडिट-कार्ड्स

Recommended

Downloads